• For Ad Booking:
  • +91 9818373200, 9810522380
  •  
  • Email Us:
  • news@tbcgzb.com
  •  
  • Download e-paper
  •  
  •  

बेटियों के लिए खुशखबरी, अब सैनिक स्कूलों में ले सकेंगी एडमिशन; शुरू हुई प्रक्रिया


Posted on 2019-11-27

नई दिल्ली, सैनिक स्कूल में पढ़कर देश की सेवा करने और अधिकारी बनने का सपना देखने वाली बेटियों के लिए खुशी की खबर है। रक्षा मंत्रालय ने देश के पांच सैनिक स्कूलों में अब लड़कियों के लिए भी एडमिशन प्रक्रिया शुरू कर दी है। इनमें चंद्रपुर (महाराष्ट्र), बीजापुर (कर्नाटक), कोडागु (कर्नाटका), कलिकिरी (आंध्र प्रदेश) और घोड़ाखाल (उत्तराखंड) स्थित सैनिक स्कूल शामिल हैं। अब यहां कक्षा छह में लड़कियां भी एडमिशन ले सकेंगी। जिसके लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और आवेदन करने के लिए छात्रों के पास 06 दिसंबर, 2019 तक का समय है। वहीं प्रवेश परीक्षा का आयोजन 05 जनवरी, 2020 को किया जाएगा।

पहले सिर्फ बालकों को मिलता था एडमिशन

अब तक सैनिक स्कूलों में सिर्फ बालकों को ही दाखिला दिया जाता था लेकिन अब बालिकाओं के लिए भी यहां एडमिशन लेने के लिए रास्ता साफ हो गया है। जो बेटियां सैन्य अधिकारी बन देश की सेवा करने का सपना देखती थीं अब वो भी यहां एडमिशन ले सकेंगी। बता दें कि पिछले साल भी बालिकाओं को सैनिक स्कूल में दाखिला देने का रास्ता खुला था लेकिन फिर छात्रावास समेत अन्य व्यवस्थाएं ना होने के कारण एडमिशन नहीं मिल सका। अब 2020-21 सत्र में छात्राओं के एडमिशन का रास्ता साफ हो गया है। स्कूलों में छात्राओं के अध्ययन संबंधी सभी क्रियाकलाप लगभग पूरे कर लिए गए हैं।
ऑल इंडिया सैनिक स्कूल एंट्रेंस एग्जाम (All India Sainik School Entrance Exam- AISSEE) के जरिए छात्रों को सैनिक स्कूल में कक्षा 06 और कक्षा 09 एडमिशन दिया जाता है। कक्षा में दाखिले के लिए छात्र की उम्र10 से 12 साल होनी चाहिए जबकि कक्षा 09 में एडमिशन के लिए छात्र की उम्र 13 से 15 साल तय की गई है। तो जो छात्र सैनिक स्कूल में एडमिशन लेना चाहते हैं वो आधिकारिक वेबसाइट sainikschooladmission.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।
 

400 रुप

Tirupati Eye

  • National Doctors Day 2020: ये हैं धरती के भगवान, नौकरी और रिटायरमेंट के बाद भी निभा रहे हैं फर्ज भगवान के बाद धरती पर अगर किसी को भगवान का दर्जा दिया जाता है तो वह हैं डॉक्टर। जिनमें बहुत से ऐसे भी हैं जो न केवल अ


  • यूपी बॉर्डर पर फंसे करीब 5000 मजदूर, गर्भवती महिलाएं और बच्चे भूख से बेहाल कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन लागू है. लॉकडाउन से सबसे ज्यादा परेशनी गरीब और मजदूर वर्ग के लोगों को उठानी पड़ रही


  • ट्रंप की नई इमिग्रेशन नीति को लेकर भारत सतर्क, नीति के ऐलान का किया जा रहा है इंतजार जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगर अपने वादे के मुताबिक नौकरी की तलाश में अमेरिका आने व


  • नहाय-खाय से शुरू हुआ आस्था का महापर्व चैती छठ, जानें मुहूर्त, पूजा विधि एवं महत्व हिंदी पंचांग अनुसार, चैत्र माह में शुक्ल पक्ष की षष्ठी को चैती छठ मनाई जाती है। इस साल 28 मार्च से 31मार्च के बीच च


  • आतंकवाद को खत्‍म करने के लिए पीएम मोदी बहुत सशक्‍त: ट्रंप अगले 50 से 100 वर्षों में प्रमुख खिलाड़ी बनने जा रहा है भारत अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा कि भारत अगले 50 से 100 वर्षों में प्रम

विज्ञापनो की मम्मी

विज्ञापनो की मम्मी कितनी अच्छी होती है.

बच्चे कपड़े गंदे करके आए तो भी