• For Ad Booking:
  • +91 9818373200, 9810522380
  •  
  • Email Us:
  • news@tbcgzb.com
  •  
  • Download e-paper
  •  
  •  

उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग

Posted on 2014-09-21

उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की मा0सदस्य श्रीमती राजदेवी चैधरी ने स्थानीय लो0नि0वि0निरीक्षण भवन में पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के साथ महिला उत्पीडन की समस्याओं को मौके पर सुना । उनके समक्ष कुल 14  समस्यायें प्राप्त हुई,जिनमें से 04 प्रकरणों को आपसी लिखित सुलह समझौते के आधार पर मौके पर ही निस्तारण कराया गया । शेष प्रकरणों को महिला थानाध्यक्ष को सौंप कर निर्देश दिए कि वे 15 दिन में इनका समुचित निस्तारण कराना सुनिश्चित करें । 
    मा0 सदस्य श्रीमती राजदेवी चैधरी के समक्ष महिला उत्पीडन के मामलों में अधिकतर मामलें घरेलू हिंसा,दहेज एवं प्रोपर्टी विवाद से सम्बन्धित थे । उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार महिलाओं के कल्याण के लिए बेहद संवेदनशील है,जिसकी समीक्षा मा0 मुख्यमंत्री द्वारा बराबर  की जा रही है ,जिसके कारण प्रदेश में महिला उत्पीडन की समस्याओं में काफी कमी आयी है तथा जो मामले प्रकाश में आये है, उनमें त्वरित कार्यवाही हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए गए है । मा0 सदस्य ने भी पुलिस अधिकारियों से कहा कि पीडितों की शिकायत मिलने पर दोनों पार्टीयों को बुलाकर आपसी सुलह समझौते पर उनका निस्तारण कराया जाय । यदि प्रकरण गम्भीर है तो पीडिता की तहरीर पर उसे तुरुन्त रजिस्टर्ड कर उसको कम्प्यूटरीकृत किया जाय ताकि उसकी समीक्षा आसानी से की जा सकें ।
    उन्होंने जनपद की महिला उत्पीडन से सम्बन्धित पंजीकृत प्रकरणों की थानाध्यक्ष महिला थाना के साथ विस्तार से समीक्षा करते हुए उनसे सभी प्रकरणों में की गई कार्यवाही की जानकारी प्राप्त की तथा लंबित 4 प्रकरणों को भी मौके पर निस्तारित किया तथा अन्य लंबित प्रकरणों में कार्यवाही तीब्रता के साथ किए जाने हेतु  निर्देश दिए । उन्होंने महिलाओं की घटनाओं की थाना स्तर