• For Ad Booking:
  • +91 9818373200, 9810522380
  •  
  • Email Us:
  • news@tbcgzb.com
  •  
  • Download e-paper
  •  
  •  

भारत में हर दिन तंबाकू की वजह से हो रही 3700 लोगों की मौत: डॉ पवन गुप्ता

Posted on 2021-02-05

आरएचएएम ने मैक्स अस्पताल व मेवाड़ काॅलेज के सहयोग से तंबाकू पर किया वेबिनार का आयोजन
गाजियाबाद: विश्व कैंसर दिवस पर बृहस्पतिवार शाम को रोटरी हेल्थ अवेयरनेस मिशन (आरएचएएम) ने मैक्स सुपर स्पेशलिटी हाॅस्पिटल वैशाली व मेवाड़ लाॅ काॅलेज वसुंधरा के सहयोग से युवाओं में तंबाकू और उसके व्यापक उपयोग विषय पर वेबिनार का आयोजन किया। आरएचएएम के स्लोगन मेरा स्वास्थ्य मेरे हाथ के तहत आयोजित वेबिनार में डाॅ.पवन गुप्ता, डायरेक्टर, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी(हैड एंड नेक) मैक्स इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर केयर, वैशाली एंड पटपड़गंज ने तंबाकू व धूम्रपान से होने वाले नुकसान के बारे में लोगों को जागरूक किया। इस दौरान लोगों ने डॉक्टर से सवाल जवाब भी किये। रोटरी क्लब ऑफ गाजियाबाद सेंट्रल, दिल्ली ईस्ट एंड, इंदिरापुरम गैलोर, गाजियाबाद हैरिटेज, गाजियाबाद मेट्रो, गाजियाबाद भार्गव समाज, मान्यवर कांशीराम राजकीय महाविद्यालय नंदग्राम, इंग्राहम इंस्टीट्यूट गाजियाबाद, इंट्रेक्ट क्लब लोटस वैली इंटरनेशनल स्कूल ने भी सहयोग किया। रो.रागिनी मिगलानी ने डाक्टर पवन गुप्ता का परिचय दिया।
मुख्य वक्ता डाॅ.पवन गुप्ता ने कहा कि भारत में हर दिन करीब 3700 लोग तंबाकू व अन्य धूम्रपान उत्पादों के कारण कैंसर व अन्य बीमारियों से दम तोड़ रहे हैं जबकि प्रतिदिन 5500 युवा तंबाकू का सेवन शुरू कर रहे है, यह चिंतनीय विषय है। वर्तमान में रोजाना 26 करोड़ युवा तंबाकू का सेवन कर रहे है। यदि कोई युवा तंबाकू का सेवन कर रहा है तो इसका मतलब है उसके घर में कोई न कोई इसका सेवन करता है। उसे सही राह नहीं दिखाई गई। हमें इन चीजों के ऊपर गौर करना चाहिए। जागरूक रहे, प्रारंभ न करें। तंबाकू पर जीत हुई आसान। जो तंबाकू का सेवन कर रहे है उसे साइड लाइन करें। मुंह में कहीं भी दाना या गांठ दिखाई दे तो सतर्क हो जाए। उसकी जांच कराए। जरूरी नहीं कि यह कैंसर हो। आजकल मार्केट में ई-सिगरेट का चलन भी बढ़ गया है। कुछ लोग यह कहकर सिगरेट पीते हैं कि उन्हें इससे फ्रेश महसूस होता है। एक सिगरेट में चार हजार ऐसे केमिकल्स होते हैं जिससे कैंसर फैलता है। तंबाकू में कई केमिकल होते हैं, जिनमें निकोटिन प्रमुख है। निकोटिन हमारे नर्वस सिस्टम को प्रभावित करता है। इसे लेने से इंसान को फौरी तौर पर बेहतर और हल्का महसूस होता है लेकिन जल्दी ही इसकी लत लग जाती है। कैंसर होने के कारणों में सबसे बड़ा योगदान तंबाकू का ही होता हैं। तंबाकू के सेवन से अनेक प्रकार के होने वाले रोगों में कैंसर प्रमुख हैं। इससे फेफड़े, मुंह, गले अथवा श्वसन नली का कैंसर हो सकता हैं। इसके अलावा पेट का कैंसर, किडनी तथा पैंक्रियाज में होने वाले कैंसर, ब्लैडर और मूत्राशय संबंधी रोगों में भी तंबाकू महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। मार्केट में तंबाकू छुड़ाने की दवा भी मौजूद है।
मेवाड़ ग्रुप की डायरेक्टर डाॅ.अलका अग्रवाल ने कहा कि यदि आज हमारी युवा पीढ़ी को सही दिशा नहीं दी जाएगी तो वह भटक जाएगी। युवा पीढ़ी नशा आदि गलत आदतों में लग जाती है तो इससे कैंसर जैसी गंभीर बीमारी भी हो जाती है। स्कूल, काॅलेजों के बाहर जो छोटी-छोटी दुकानें बीड़ी, सिगरेट, पान, गुटकों की होती है उन्हें बंद कराना चाहिए। जिससे युवाओं को ऐसी चीजें ना मिले। अभिभावकों को भी देखना होगा कि वो किस संगत में बैठ रहा है। उन्होंने कहा कि आरएचएएम द्वारा ये वेबिनार युवाओं के अलावा सभी के लिए बहुत ही जानकारीपरक है।
आरएचएएम के संरक्षक सदस्य एवं पीडीजी रो.जे.के.गौड़ ने कहा कि आज के युवा स्मोकिंग का बहुत अधिक सेवन कर रहे है। इसके लिए अभिभावकों के साथ हम सबको जागरूक होना होगा। बच्चों को स्मोकिंग से होने वाले नुकसान के बारे में भी बताना होगा। साथ ही हमें भी स्मोकिंग छोड़नी होगी। यदि हम स्मोकिंग नहीं छोड़ पा रहे है तो कम से कम इतना जरूर कर सकते है कि बच्चों के सामने स्मोकिंग न करें।
आरएचएएम के संरक्षक सदस्य एवं पीडीजी रो.डाॅ.सुभाष जैन ने कहा कि तंबाकू एक धीमा जहर है जो धीरे-धीरे व्यक्ति को मौत के मुंह तक ले जाता है। इससे मुंह का कैंसर से लेकर बाॅडी में अन्य बीमारियां अपना घर कर लेती है। सभी व्यक्ति इस बात को जानते है लेकिन फिर भी लोग इसे छोड़ते नहीं। तंबाकू खाने वाले धीरे-धीरे मौत को अपने करीब बुला रहे है। इस लत को जितनी जल्दी छोड़ दिया जाए उतना ही अच्छा है।
असिस्टेंट गर्वनर जोन-4 डिस्ट्रिक 3012 रो.अमिता महेंद्रु ने कहा कि हमें युवाओं में तंबाकू की लत को खत्म करना है। हमें सिर्फ किताबों पर ही निर्भर नहीं रहना है उसे लागू भी करना है। हमें चैन बनाकर आगे बढ़ना होगा। हमारा देश तभी स्वस्थ होगा तब हम स्वस्थ होंगे। सभी को तंबाकू का त्याग करना होगा।
रोटरी हेल्थ अवेयरनेस मिशन के फाउंडर एवं चेयर डॉ धीरज कुमार भार्गव ने कहा कि काॅलेजों में पढ़ने वाले आज के हमारे युवा तंबाकू का अधिक सेवन करते है। वेबिनार के माध्यम से इसी पर चर्चा की गई। मेरा स्वास्थ्य मेरे हाथ के तहत लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया जा रहा है। रोटरी कैंसर फाउंडेशन लोगों की कैंसर की बीमारी में होने वाले खर्च का 50 प्रतिशत वहन करता है।
वेबिनार में दयानंद शर्मा, राजेश मिश्रा, अनिल, सीपी गुप्ता, हुनर सिक्का, कुनिका भार्गव, ललित शर्मा, मनीष भरतिया, मनीषा भार्गव, नरेश ढिंगरा, रो.संदीप मिगलानी, एस.बी मुखर्जी, शिवांगी बघेल, शिवानी, सुनील गौतम, सुनीता, विनोद भार्गव सहित काफी संख्या में लोग शामिल हुए।

Tirupati Eye

  • World Cancer Day 4th February 2021


  • Wishing you 72nd Republic Day


  • Netaji Subhas Chandra Bose Jayanti 23-Jan-2021


  • Happy makar sankranti


  • HAPPY LOHRI & MAKARSANKRANTI

Thoda hans lo

वर्मा जी एक कड़क ऑफिसर हैं!
स्टाफ अगर लेट आए तो उनको बिलकुल बर्दाश्त नहीं